Monday, 10 February 2014

DTP & Designing Work- काम करने का पक्का तरीका

your DTP & Designing work

आपके दिन कि शुरुआत -

१- आपने कस्टमर से काम समझा

२- अपने कारीगर को कहा, कि इस कस्टमर का काम, आज शाम को देना है

३- आप मार्किट निकल गए, अन्य काम करने के लिए

४- शाम को कस्टमर का फ़ोन आता है - मेरा प्रिंटिंग का सामान दे दो

तब आप - अपने कारीगर को पूछते हो - इस कस्टमर के काम का क्या हुआ 

और कारीगर बताता है -  काम नहीं हुआ क्योंकि 

१- पेपर नहीं आया था   या 

२- प्रिंटिंग इंक ख़तम हो गयी थी  या 

३- गलत सामान पर छप  गया  

अब  आप परेशान - इधर कस्टमर नाराज - उधर आपकी कारीगर से तू- तू- मैं-मैं  - 

और कमाई  बाबाजी का ठुल्लु 
पर अब से ये नहीं होगा ! अगर आप इन बातों का ध्यान रखें 

1-  पक्की बात करना - confirmation
यानि की ऐसा न हो जिससे आप बात करें - उसका ध्यान आप पर हो ही नहीं -
                                              आप अपनी बात कह कर चले जाएँ और बात किसी ने सुनी ही ना हो

   - अपने कारीगर या किसी से  भी जब बात करें - आमने सामने होकर बात करें - और पूछे उसने क्या समझा

जैसे मोबाइल पर किसी को नंबर देते हैं और देने के बाद पूछते हैं कि क्या नंबर लिखा है - वास्तव में यही पक्की बात है अगर आप ऐसे करतें हैं तो काम पक्का होगा और नुकसान बिलकुल भी नहीं 

     -  जितना हो सके लिख कर - या लिस्ट बना कर काम करें - और कारीगर के सामने रखें
     - हो सके तो बोर्ड दिवार पर लगाएं

 
    -   अपने स्टाफ को या कारीगर को साफ़-साफ़ कह दें - किसी भी वजह से काम रुके -
         आपको फ़ोन करके उसी समय बताया जाये न कि शाम को पूछने पर 

  
कस्टमर को सही समय दें 
       - ऐसे ही न कहें - शाम को हो जायेगा - कल ले लेना - जब भी कोई टाइम दें - उसे पहले कैलकुलेट करें - 
           जैसे छापना - बाइंडिंग करना - जॉब सूखना -आदि सोच विचार करने के बाद -
                                                                                                    डिलीवरी का टाइम कस्टमर को दें 

      - कस्टमर को जरूर कहें कि अपने मैटर को अच्छी तरह चेक कर लें - कहीं कोई गलती न रह जाये 
     - अगर आप बार बार ऊपर कही बातें कहते रहते हो तो कस्टमर भी - आपको बाद में परेशान नहीं करेगा 
     - कस्टमर से प्रूफ पर साइन करवा कर - जॉब छपने को दें

    - अगर किसी वजह से - आप टाइम पर काम नहीं दे पाएंगे -
                                          तो तुरंत कस्टमर को फ़ोन करें और बताएं  कि अब नया समय क्या होगा

    -  इस तरह कस्टमर नाराज नहीं होता बल्कि आपका साथ देता है 

          ( पर आप ऐसा नहीं करते तो क्या होगा - कस्टमर आपको फ़ोन करेगा - आप आना कानी करेंगे - फ़ोन नहीं उठाएंगे - किसी और को फ़ोन देकर झूठ बुलवायंगे - ये सभी बातें कस्टमर को परेशान करेंगी , और आप पर कस्टमर का भरोसा तोड़ेंगी )

      
ऊपर लिखी बातों पर अगर आप अमल करते है तो यकीन माने - कस्टमर आप पर ज्यादा भरोसा करेगा 
खुद आपको भी अपने पर विश्वास बढ़ेगा - और आपका व्यापार भी बढ़ेगा